केजरीवाल के कथनी और करनी में अंतर: अन्ना हजारे - The Forth Pillar

केजरीवाल के कथनी और करनी में अंतर: अन्ना हजारे

नई दिल्ली: सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने एमसीडी चुनावों में आम आदमी पार्टी की हार पर प्रतिक्रिया दी है. समाजसेवी अन्ना हजारे ने दिल्ली एमसीडी चुनावों में आम आदमी पार्टी की हार को लेकर अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है. अन्ना ने कहा है कि पार्टी की कथनी और करनी में फर्क है जिससे उसकी हार हुई. आम आदमी पार्टी से लोगों का भरोसा टूटा है. सादगी का वादा करके गाड़ी-बंगले ले लिए. एमसीडी में आप की हार का मुझे दुख हुआ है.

अन्ना हजारे ने कहा कि अगर अरविंद केजरीवाल ने मेरी बात सुनी होती तो उन्हें चुनाव में हार नहीं मिलती. लोकपाल बिल के लिए केजरीवाल के साथ मिलकर आंदोलन चलाने वाले अन्ना हजारे ने कहा कि उन्होंने कई बार केजरीवाल को संदेश देने की कोशिश की. अन्ना ने कहा कि मैंने केजरीवाल को संदेश दिया था कि दिल्ली के लोगों ने आप पर भरोसा जताया है तो लोगों के विकास के लिए कार्य करो. पूरे देश दिल्ली के विकास का रोड मॉडल बनाओ, लेकिन अरविंद ने मेरी नहीं सुनी.

दिल्ली को भूल गए अरविंद केजरीवाल

अन्ना ने केजरीवाल को मिलती लगातार हार पर कहा कि केजरीवाल ने पहले लोकसभा चुनाव लड़ा, फिर पंजाब में लड़ा, इसके बाद गोवा में भी हाथ आजमाने पहुंच गए. लेकिन अरविंद ये सब करते हुए दिल्ली को भूल गए. सत्ता ऐसी चीज है कि एक बार कुर्सी मिल जाए तो सिर्फ सत्ता ही दिखती है. अन्ना हजारे ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके कहने और करने में बहुत अंतर है. उन्होंने दिल्ली की जनता से जो कहा था वो पूरा नहीं किया.

ईवीएम पर दोषारोपण गलत

अन्ना ने कहा कि हार के बाद ईवीएम पर दोष मढ़ना गलत है. आम आदमी पार्टी द्वारा हार की ठीकरा ईवीएम मशीन पर फोड़े जाने पर अन्ना ने कहा कि चुनाव आयोग ने कहा था कि जिन लोगों को ईवीएम मशीन पर संदेह है वो आएं और अपना हमें बताएं. इन्हें भी चुनाव आयोग के सामने जाना चाहिए था और अपनी शिकायत रखनी चाहिए थी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...